Risk के बावज़ूद Equity में क्यों Invest करना चाहिए.

      Comments Off on Risk के बावज़ूद Equity में क्यों Invest करना चाहिए.
why invest in equity mutual funds hindi

हम अक्सर ये रहते हैं कि Equity Funds में निवेश करना काफ़ी risky हो सकता है. चूँकि equity से सीधे stocks या share market में निवेश होता है इसलिए market के सभी risk से ये सीधा प्रभावित हो सकता है.
अब सवाल ये उठता है कि इन risks के बावजूद Equity Mutual Funds इतना लोकप्रिय क्यों है. सच तो यह है कि जो लाभ हमें equity में मिल जाते हैं वो और किसी निवेश विकल्पों में नहीं मिलते.

Capital appreciation(पूंजी में वृद्धि)
Equity में invest करने का ये सबसे बड़ा फ़ायदा है. Equity ही ऐसा निवेश विकल्प है जो हमें Inflation को हारने वाले returns दे सकती है. इसके साथ हम ज़्यादा समय तक invest करके अपने capital कि अच्छी growth भी कर सकते है.

Liquidity
टैक्स सेविंग funds को छोड़कर लगभग सभी equity funds बहुत ज़्यादा Liquidity प्रदान करते हैं. जितनी आसानी से हम अपने पैसे को invest करते हैं उतनी ही आसानी से हम उसे redeem (निकाल) सकते हैं.

इसे भी पढ़ें: Equity Fund vs Debt Fund सही कौन?

Professionally managed
Mutual Funds के बाकी products कि तरह Equity Funds को professionals manage करते हैं. इन्हे market कि अच्छी समझ होती है. इससे फ़ायदा ये होता है कि हमें बिना ज़्यादा research के अच्छे funds मिल जाते हैं.

Market Exposure
अगर किसी नए investor को shares या stocks में invest करना हो तो सीधे share market कि जग़ह उसे Equity Mutual Funds में निवेश से शुरुआत करनी चाहिए. Shares में सीधे invest करना काफ़ी risky होता है. इसके साथ Shares में सीधे invest करने में काफ़ी research कि ज़रूरत होती है. Equity में invest करके हम share market के बारे में काफी जानकारी इकठ्ठा कर सकते हैं.

Diversification
सुरक्षित निवेश का मूल मंत्र है की अपने पैसे को एक जगह न लगा कर बहुत सारी जगहों पर बाँट दो और कई सारी जगहों पर निवेश करो. हर Mutual Fund पैसे को अलग अलग जगहों पर निवेश करता है.
अच्छे फण्ड में न केवल दूसरी कंपनी बल्कि दूसरे सेक्टर या किसी भी बड़ी कंपनी में भी निवेश किया जा सकता है. जिससे निवेशकों को अधिकतम सुरक्षा मिलती है.

Tax Saving
Equity Funds के ELSS में invest करके हम 80 C के अंतर्गत 1.5 लाख तक का टैक्स benefit ले सकते हैं.